February 25, 2021

HBN | Haryana Breaking News

Haryana Ki Awaz

बेमौसमी बारिश का कहर, किसानों के लिए बनकर आई आफत, फसल को हुआ नुकसान

1 min read

पलवल में हुई मूसलाधार बारिश से गेहूं की फसल में भारी नुकसान हुआ है। तेज आंधी तूफान के चलते खेतों में लह लहाती गेहूं की फसल जमीन पर लेट गई। जिसके चलते फसल के उत्पादन पर काफी प्रभाव पड़ेगा। कृषि विशेषज्ञ डा. महावीर मलिक ने बताया कि जिले में पलवल ब्लॉक में 44 एम.एम बारिश,होडल व हथीन में 35-35 एम.एम और हसनपुर में 30 एम.एम बारिश दर्ज की गई है। उन्होंने किसानों को सलाह देते हुए कहा कि खेतों में खड़े हुए पानी को निकालने का प्रयास करें। मौसम साफ होने के बाद फसल हवा के चलने से दोबारा उठने का प्रयास करेगी।

कृषि विशेषज्ञ डा. महावीर मलिक ने कहा कि गेहूं की फसल में लगभग 80 प्रतिशत बालियां निकल चुकी है। ऐसी स्थिति में पौधे के ऊपर बोझ बन जाता है। बारिश के साथ हवा चलने पर बालियों के वजन से पौधा गिर जाता है। ऐसे में फसल को काफी नुकसान हो सकता है। मार्च के महीने में होने वाली बारिश फसलों के लिए लाभकारी सिद्घ नहीं होती है। पलवल जिले में हुई बारिश के दौरान कई गांवों में ओलावृष्ठिï होने के भी समाचार मिले है। उन्होंने बताया कि पलवल जिले में करीब 96 हेक्टेयर भूमि में गेहूं की खेती की जाती है। बारिश के चलते गेहूं की फसल में काफी नुकसान हुआ है। उन्होंने बताया कि जिले में 70 से 75 प्रतिशत गेहूं की अगेती फसल की बिजाई की जाती है। फसल में बालियां निकलने की वजह से यह फसल तैयार होने की स्टेज पर है। बारिश के चलते लगभग 15 से 20 प्रतिशत खेतों में खड़ी गेहूं की फसल गिर गई है।

शेयर करें
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.