Home / समाचार / चंडीगढ़ / संपर्क फॉर समर्थन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने की अकाली नेताओं से मुलाकात,2019 से पहले भाजपा को क्यों पड़ी इसकी जरुरत

संपर्क फॉर समर्थन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने की अकाली नेताओं से मुलाकात,2019 से पहले भाजपा को क्यों पड़ी इसकी जरुरत

संपर्क फॉर समर्थन के तहत आज भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह चंडीगढ़ पहुँचे ,जहाँ उन्होंने बीजेपी की सहयोगी अकाली दल के नेताओं पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल व सुखबीर बादल की मुलाकात ! वही मिली जानकारी अनुसार अमित शाह पूर्व हाॅकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सिद्धू और मिल्खा सिंह से भी उनके निवास पर मुलाकात करेंगे,वही शाह का गुरूद्धारा में मत्था टेंकने का कार्यक्रम भी है !

सबसे पहले चंडीगढ़ पहुंचने के बाद सीधे यूटी गेस्ट हाउस में बादल से मुलाकात की ! शाह, यहां पंजाब, हरियाणा व चंडीगढ़ के भाजपा नेताओं से भी मुलाकात करेंगे ! वही शाम को 5.30 बजे बलबीर सिद्धू के घर, करीब 6.25 पर सेक्टर 34 के गुरुद्वारे तथा उसके बाद मिल्खा सिंह के निवास पर जाएंगे !

चंडीगढ़ भाजपा के सेक्टर 33 में स्थित मुख्यालय में जाएंगे , स्थानीय नेताओं व कार्यकर्ताओं से सोशल मीडिया के प्रयोग पर चर्चा करेंगे ! वही मिली जानकारी अनुसार अमित शाह अम्बाला छावनी एयरफोर्स स्टेशन से दिल्ली के लिए सड़क मार्ग से रवाना होंगे , यहां कोई कार्यक्रम नहीं है , शाह यहां मंत्री अनिल विज से मुलाकात करेंगे !बुधवार को शाह ने मुंबई में एनडीए गठबंधन के प्रमुख सहयोगी दल शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी ! साथ ही, संपर्क फॉर समर्थन कार्यक्रम के तहत माधुरी दीक्षित से भी मुलाकात की !

क्यों अहम है यह मुलाकात ?

– गौरतलब है की शिरोमणि अकाली दल एनडीए का पुराना सहयोगी है ! हालांकि इन दिनों भाजपा व अकाली दल के संबंधों में खटास की खबरें आई हैं !

– शाह के दौरे से पहले सुखबीर बादल ने कहा है, “एनडीए में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है, युद्ध जैसी स्थिति है ! ”

– हाल में हुए उपचुनाव में अकाली दल को अपने गढ़ शाहकोट में हार मिली थी , 39 साल में यहां अकाली दल की पहली हार थी ! क्योंकि 1992 में अकाली दल ने चुनाव का बॉयकॉट कर दिया था !

– पहले शाहकोट उपचुनावों में हार और फिर सुखबीर के बयान से भाजपा की चिंता भी बढ़ी है ! माना जा रहा है कि शाह की बड़े बादल और सुखबीर बादल से मुलाकात गठबंधन दलों को एकजुट करने के कार्यक्रम का हिस्सा है, खासकर कर्नाटक में सरकार न बना पाने के कारण अब अमित शाह एनडीए के सभी सहयोगी दलों को इकट्ठा करने में जुटे हैं !

शेयर करें
  • 13
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

About admin

Check Also

कुरुक्षेत्र पोलिंग बूथ में हार्ट अटैक से रोशन लाल की मौत ,वोट डालने के बाद आया तुरंत अटैक ,देखें पूरी खबर

कुरुक्षेत्र के पिपली से सटे गांव किशनपुरा के रोशन लाल कश्यप (55) लोकतंत्र के महापर्व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *