Home / समाचार / अम्बाला / हो जाएं सावधान, ज्यादा पानी पीना स्वास्थ्य के लिए है घातक

हो जाएं सावधान, ज्यादा पानी पीना स्वास्थ्य के लिए है घातक

यदि आप ज्‍यादा पानी पीते हैं तो सावधान हो जाएं। अक्सर पेट की बीमारियों कब्ज, एसिडिटी को दूर करने के लिए अत्याधिक पानी पीने पर ही जोर दिया जाता है। लेकिन, अत्याधिक पानी पीना शरीर के लिए नुकसानदेह है। पानी को शुद्ध करने के बाकायदा, आरओ सिस्टम भी लगाया जाता है, लेकिन यह पानी भी शरीर को फायदा नहीं बल्कि नुकसान पहुंचाता है।

यह कहना है नई दिल्‍ली के गंगा राम अस्पताल के डॉक्टर परमेश्वर अरोड़ा का। वह बुधवार को छावनी के पीडब्ल्यूडी रेस्ट में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने पानी पीने के लाभ, हानियां और पानी पीने के तरीकों पर चर्चा की। पानी के बारे में कई भ्रांतियों के जवाब दिए। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद के अनुसार, ज्यादा पानी पीने से अपच की बीमारी शुरू हो जाती है, क्योंकि पानी से पाचक अग्नि शांत हो जाती है।

उन्‍होंने आरओ के पानी को भी सेहत के लिए हानिकारक बताया। उन्‍हाेंने कहा कि इसके कारण पानी के सूक्ष्म तत्व खत्म हो जाते हैं। यही कारण है कि अधिक जल सेवन से शरीर में पेट के रोग, मधुमेह, रक्तचाप एवं किडनी इत्यादि से संबंधित अनेक रोग उत्पन्न हो सकते हैं।

उन्‍हाेंने कहा कि प्यास लगने पर तुरंत लोग एक के बाद एक गिलास पानी का सेवन शुरू कर देते हैं। पानी प्यास तो बुझा देगा पंरतु यह शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकता है। डॉ. परमेश्वर अरोड़ा ने बताया कि कोई व्यक्ति प्रतिदिन कितना पानी पिए यह निश्चित नहीं किया जा सकता। यह मात्रा उस व्यक्ति द्वारा उस दिन किए गए शारीरिक श्रम, बाहर के वातावरण एवं शरीर की अवस्था के अनुसार परिवर्तित होती है। एक दिन में व्यक्ति को 1.5 से 2 लीटर तक जलीय पदार्थों का सेवन करना चाहिए। इसमें जल, दूध, जूस, चाय आदि शामिल हैं।

उन्‍होंने कहा कि सुबह उठकर खाली पेट एक गिलास (लगभग 250-300 मिली) गर्म पानी पीना, भोजन को पचाने में मदद के लिए भोजन थोड़ा-थोड़ा करके करना व एक कप गर्म पानी (लगभग 150-200 मिली) का सेवन करना हितकारी है। भोजन के बाद -लगभग हर 1-2 घंटे पर प्यास न लगने पर भी एक कप गर्म पानी (लगभग 150-200 मिली) पीते रहना चाहिए। इसके साथ ही प्यास लगने पर अधिकतम 200 मिली (लगभग एक छोटा गिलास) पानी संयम के साथ पीना चाहिए।

 

शेयर करें
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

About Malak Singh

Check Also

आचार संहिता लगते ही नगर निगम ने हटाए होर्डिंग

उपायुक्त शरणदीप कौर बराड़ ने कहा कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चुनाव से सम्बन्धित अधिकारियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *